विद्युत मजदूर संगठन एवं विद्युत संविदा मजदूर संगठन, उत्तर प्रदेश की केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक लखनऊ स्थित केंद्रीय कार्यालय पर

दिनांक-17.01.2021 को लखनऊ स्थित केंद्रीय कार्यालय पर श्री आर एस राय के नेतृत्व में आयोजित किया गया। जिसमें प्रदेश के कोने कोने से पदाधिकारियों ने भाग लिया।जिसमें नियमित और संविदा कर्मचारियों द्वारा 5 सूत्रीय माँगों के समर्थन और कर्मचारियों के विभिन्न समस्याओं के समाधान हेतु, कर्मचारियों के उत्पीड़न के विरोध में एवं देश के अन्नदाता किसान आंदोलन को नैतिक समर्थन देने का निर्णय लिया गया।बैठक को सम्बोधित करते हुए श्री प्रवीण कुमार सिंह,प्रदेश महामंत्री ने बताया कि कार्यालय सहायक एवं टीजी-2 को ग्रेड पे- 3000 एवं फरवरी 2009 के तीसरा टाइम स्केल पाने वाले कर्मचारियों को 6600 ग्रेड पे, 35 हज़ार रिक्त पदों पर संविदा कर्मचारियों के भर्ती एवं पुरानी पेंशन बहाल किये जाने के की मांग किया गया तथा टीजी-2 से अवर अभियंता के पद पर पदोन्नति हेतु 10 वर्ष एवं लिखित परीक्षा की बाध्यता को समाप्त किया जाए।। सर्वश्री आर एस राय, इन्द्रेश राय,वेद प्रकाश राय, अरुण कुमार, श्रीचंद, आर ए शुक्ला, राजकुमार यादव संतोष सिंह,श्रीनिवास यादव,राजकुमार यादव,शोएब हसन, शमीम अहमद,अरविन्द यादव,संजय सिंह,दीपक कश्यप आदि लोग मौजूद थे।
संगठन के कार्यवाहक अध्यक्ष वेद प्रकाश राय ने कहा की पूरे देश में देश के अन्नदाता किसान अपनी माँगों के समर्थन में संघर्ष कर रहे हैं और सरकार द्वारा उनकी मांगों को अनसुना किया जाना अत्यंत चिंताजनक है जिसके समर्थन में संगठन के प्रदेश से आये पदाधिकारियों ने आंदोलन के दौरान मृत अन्नदाता किसानों के लिए दो मिनट का मौन रखकर श्रधांजलि दिया गया।
संगठन के पूर्वांचल अध्यक्ष ने बताया कि पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड,वाराणसी के अंतर्गत विभिन्न जिलों में कोरोना वायरस जैसे घातक संक्रमण में भी नियमित कर्मचारी एवं संविदा कर्मी बिजली फीडरों, सब स्टेशनों, पावर हाउस में उपभोक्ता शिकायतों का निवारण, विद्युत लाइनों का अनुरक्षण और विद्युत उत्पादन पूरी निष्ठा के साथ किया जा रहा है तथा प्रबंधन के आदेशनुसार कर्मचारियों द्वारा कार्यालय में उपस्थित होकर राजस्व एवं अन्य कार्य तत्परता से किए जा रहे हैं तत्पश्चात नियमित और संविदा कर्मचारियों का शोषण नहीं रुक रहा है और कर्मचारियों की वेतन काटने,ईपीएफ का भुगतान जैसा उत्पीड़न किया गया।
संगठन के केंद्रीय महामंत्री श्रीचंद ने बताया कि सरकार द्वारा विद्युत अधिनियम संसोधन बिल 2020 जारी करना उपभोक्ताओं एवं कर्मचारियों के लिए घातक होगा जिसपर तत्काल रोक लगाना ही न्यायसंगत होगा।
सभा की अध्यक्षता श्री आर एस राय एवं संचालन वेद प्रकाश राय द्वारा किया गया।

What do you think?

चंदौली-

कोरोना अपडेट