वाराणसी : – सारनाथ के विशाल की हत्या उसके पड़ोसी ने की थी , पतंग दिलाने के बहाने ले जाकर दबा दिया गला

आज दिनांक 07.02.2021 को क्राइम ब्रांच वाराणसी व थाना सारनाथ पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा विशाल कुमार नामक बालक का अपहरण कर हत्या करने वाले अभियुक्त धर्मेन्द्र कुमार को किया गया गिरफ्तार

दिनांक 29.01.2021 को ग्राम पैगम्बरपुर थाना सारनाथ जनपद वाराणसी से एक 09 वर्षीय बालक विशाल कुमार पुत्र मंजय कुमार के अपने घर से अचानक गायब हो जाने के सम्बन्ध में थाना सारनाथ पर मु0अ0सं0 0060/2021 धारा 363 भादवि पंजीकृत किया गया था। उक्त बालक की तलाश टीम गठित कर की जा रही थी कि दिनांक 31.01.2021 को प्रातः वादी के घर पर एक पत्र पड़ा हुआ मिला। जिसमें बच्चे के बदले रु0 50,000/- लेकर चौबेपुर रोड पर अकेले आने तथा न आने पर बच्चे को मार देने की बात अंकित की गयी थी। दिनांक 01.02.2021 को अपहृत बच्चे विशाल कुमार उपरोक्त का शव बी0एस0 स्कूल के पीछे स्थित एक प्लाट से बरामद हुआ। जिसके बाद उक्त अभियोग को धारा 364(ए)/302 भादवि में तरमीम किया गया।

आज दिनांक 07.02.2021 को क्राइम ब्रांच वाराणसी व थाना सारनाथ पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा देखभाल क्षेत्र के दौरान मुखबिर की सूचना पर मु0अ0सं0 0060/2021 धारा 364(ए)/302 भादवि से सम्बन्धित अभियुक्त धर्मेन्द्र कुमार पुत्र छविनाथ निवासी पैगम्बरपुर थाना सारनाथ, वाराणसी उम्र करीब 25 वर्ष को नक्खीघाट पुल के पास थाना सारनाथ जनपद वाराणसी से समय करीब 06.25 बजे गिरफ्तार किया गया। उक्त गिरफ्तारी के सम्बन्ध में थाना सारनाथ पुलिस द्वारा अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा रही है।

विवरण पूछताछ-
अभियुक्त धर्मेन्द्र द्वारा पूछताछ के दौरान बताया गया कि उसका मृतक विशाल कुमार के घर पर नियमित आना जाना था। उसका घर भी पड़ोस में ही है। अभियुक्त धर्मेन्द्र ने कुछ माह पूर्व से जुए में पैसे हार जाने के कारण कई लोगो से पैसे उधार ले रखे थे तथा उसने अपना मोबाइल फोन भी गिरवी रख दिया था । कर्जा देने वाले व्यक्तियों द्वारा पैसा वापसी का दबाव बनाया जाने लगा। अभियुक्त धर्मेन्द्र को लगता था कि मंजय कुमार उपरोक्त के पास प्रधानमंत्री आवास योजना से घर बनवाने के बाद पैसे बचे हुए है। विशाल के घर पर उसकी बहन की शादी ब्याह की चर्चा भी उसने सुनी थी। जिससे उसको लगता था कि मंजय के पास पैसे होंगे। इसी कारण अभियुक्त द्वारा विशाल का अपहरण कर उसके पिता से पैसे वसूलने की योजना बनायी गयी।
दिनांक 29.01.2021 को दोपहर में अभियुक्त धर्मेन्द्र कुमार, मंजय कुमार के घर गया, उस समय विशाल घर पर खाना खा रहा था, विशाल की मां व उसकी बड़ी बहन अपने मायके गये हुए थे, मंजय कुमार भी घर के बाहर था। अभियुक्त धर्मेन्द्र द्वारा विशाल को पतंग दिलाने के बहाने से बी0एस0 स्कूल के पास जाने की बात कहकर नीचे नुक्कड़ पर बुलाया गया। नुक्कड़ पर विशाल को अपने पीछे आने की बात कहकर अभियुक्त उसे लेकर स्कूल के पीछे प्लाट पर गया। जहां प्लाट के अन्दर झाड़ियों में ले जाकर उसने गला दबाकर विशाल कुमार की हत्या कर दी। इसके पश्चात अभियुक्त धर्मेन्द्र कुमार विशाल के परिजनों के साथ उसकी तलाश करने में उनके साथ साथ घूमने लगा, जिससे कि उसके ऊपर किसी को शक न हो। अगले दिन शाम को उसके द्वारा एक चिट्ठी लिखकर विशाल के घर पर फेंकी गई, जिसमें लड़के के बदले 50,000/- रुपये लेकर चौबेपुर रोड पर आने व न आने पर लड़के को मार देने की बात अंकित की गई थी।
अभियुक्त धर्मेन्द्र की निशानदेही पर घटना के समय पहने हुये कपड़े, उसके द्वारा जो चिट्ठी लिखकर मृतक के घर पर रखी गयी थी उस कागज का दूसरा टुकड़ा जिस पर एक बैंक का नाम व मोनोग्राम बना हुआ था तथा पेन बरामद किया गया। इस सम्बन्ध में थाना सारनाथ पुलिस द्वारा उक्त पत्र में अंकित हस्तलेख के मिलान के सम्बन्ध में आवश्यक विधिक कार्यवाही की जा रही है।

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण-
• धर्मेन्द्र कुमार पुत्र छविनाथ निवासी पैगम्बरपुर थाना सारनाथ, वाराणसी उम्र करीब 25 वर्ष

गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम का विवरण-

  1. उ.नि. सुनील कुमार यादव थाना प्रभारी थाना सारनाथ वाराणसी
  2. व.उ.नि. राजेन्द्र कुमार त्रिपाठी थाना सारनाथ वाराणसी
  3. उ0नि0 राजीव कुमार सिंह चौकी प्रभारी आशापुर थाना सारनाथ वाराणसी
  4. उ0नि0 अश्वनी राय थाना सारनाथ वाराणसी
  5. उ0नि0 मिथिलेश कुमार चौकी पुरानापुल थाना सारनाथ वाराणसी
  6. हे0का0 आलोक सिंह थाना सारनाथ वाराणसी
  7. हे0का0 बूटा सिंह यादव थाना सारनाथ वाराणसी
  8. का0 प्रशान्त कुमार सरोज थाना सारनाथ वाराणसी
  9. उ.नि. संतोष कुमार यादव चौकी प्रभारी लालपुर थाना लालपुर पाण्डेयपुर वाराणसी
  10. निरीक्षक श्री अश्वनी पाण्डेय (क्राइम ब्रांच प्रभारी) मय क्राइम टीम

प्रभारी निरीक्षक
सोशल मीडिया सेल

What do you think?

वाराणसी : -कन्फेडरशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स ( कैट )

प्रयागराज : – श्रद्धालु लगाएंगे आस्था की डुबकी