वाराणसी:-जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा को मिला एनुअल स्टेट अवार्ड फॉर बेस्ट इलेक्ट्रोल प्रैक्टिसेज अवार्ड 2020

राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी सोमवार को इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान, विभूति खण्ड, लखनऊ में सम्मानित किया गया

   वाराणसी/लखनऊ। मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उत्तर प्रदेश, लखनऊ  द्वारा जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी, वाराणसी कौशल राज शर्मा को अर्हता दिनांक 01.01.2020  के आधार पर हुये विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दौरान त्रुटि रहित मतदाता सूची तैयार कराने के लिये किये गये अथक प्रयास हेतु एनुअल स्टेट अवार्ड फॉर बेस्ट इलेक्ट्रोल प्रैक्टिसेज अवार्ड 2020 (इलेक्ट्रोल रोल मैनेजमेंट) हेतु सोमवार को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर लखनऊ के इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान, विभूति खण्ड, लखनऊ में सम्मानित किया गया।
     गौरतलब हो कि मतदाता पुनरीक्षण 2020 में जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा कराये गये कार्यों में मतदाता सूची पुनरीक्षण कार्य के दौरान दिनांक 18 दिसम्बर,2019, 27 दिसम्बर,2019 एवं 04 जनवरी, 2020 निर्वाचक/सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों के साथ बैठक कर आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप मतदाता सूची में विद्यमान त्रुटियों को शुद्ध किये जाने एवं छूटे हुये अर्ह मतदाताओं दिव्यांग मतदाताओं, युवा मतदाताओं (18-19 आयु वर्ग), महिला मतदाताओ के नाम मतदाता सूची में शामिल किये जाने पर विशेष अभियान चलाकर कुल 39,549 नये मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में शामिल कराया गया एवं मतदाता सूची में पंजीकृत 24,654 मृतक, शिप्टेड, डुप्लीकेट मतदाताओं के नाम मतदाता सूची से हटवाया गया। छूटे हुये अर्ह मतदाताओं के पंजीकरण के लिये जनपद में अवस्थित 2920 मतदेय स्थलों पर दिनांक 29 दिसम्बर 2019, 05 जनवरी, 2020 एवं 12 जनवरी, 2020 को विशेष अभियान कार्यक्रम आयोजित किया गया। पुनरीक्षण के दौरान कुल 39,549 जोड़े गये नये मतदाताओं में से 21,948 मतदाता 18-19 आयु वर्ग के शामिल किये गये जिसमें 11,413 पुरूष एवं 10,535 महिलाओं का नाम शामिल किया गया। जिसके कारण जनपद का जेण्डर रेसियों 818 से बढ़कर 819 हुआ। पुनरीक्षण के दौरान छूटे हुये अर्ह 1506 दिव्यांग मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में शामिल किया गया। मतदाता सूची में विद्यमान 24,654 मृतक, शिफ्टेड एवं डुप्लीकेट मतदाताओं का नाम मतदाता सूची से हटाया गया। पुनरीक्षण के दौरान मतदाता सूची में विद्यमान विभिन्न प्रकार के 3546 लॉजिकल एरर को शुद्ध कराया गया। पुनरीक्षण के दौरान मतदाता सूची में विद्यमान 14,149 डेमोग्राफिकल सिमिलर इन्ट्रीज (DSE) मतदाताओं का सत्यापन कराकर डुप्लीकेट मतदाताओं का नाम मतदाता सूची से हटाया गया। मतदाता सूची को त्रुटि रहित बनाने एवं अर्ह मतदाताओं को शामिल किये जाने हेतु कालेजों/विश्वविद्यालयों में गठित मतदाता साक्षरता क्लब (ELC) के माध्यम से पुनरीक्षण कार्य का व्यापक प्रचार-प्रसार कराते हुये युवा मतदाताओं के पंजीकरण की कार्यवाही करायी गयी। मतदाता सूची

को त्रुटि रहित बनाये जाने हेतु जनपद में तैनात 2920 बी0एल0ओ0 के माध्यम से घर-घर सत्यापन
का कार्य कराया गया।

What do you think?

कोरोना उपडेट:-

वाराणसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने निकाला संविधान मार्च